WASHINGTON- Bhopal gas tragedy among world's major industrial accidents of 20th century: UN///CHANDIGARH- Smt. Anarben Patel delievered views on Women Empowerment in Bharat Through Ages'//Andhra Pradesh AP ICET Exam Hall Ticket Released///रोहतक-एमडीयू के संत साहित्य शोध पीठ के अंतर्गत कबीर केंद्रित नाटक व्याख्यान///HYDERABAD. -Vice President urges medical fraternity to create awareness////गाजियाबाद .सिल्वर लाइन प्रेस्टीज स्कूल, में वार्षिक खेलकूद प्रतियोगिता का शुभारम्भ////रोहतक- MDU -सेंटर फॉर बायोइंफोर्मेटिक्स में फेयरवेल पार्टी का आयोजन किया ///रोहतक-गंगा इंस्टीट्यूट के दीक्षांत समारोह में विद्यार्थियों को डिग्रीयां प्रदान की //// NEW DELHI.-CBSE denies dropping 5 chapters from Class 10 social science syllabus////रोहतक-एमडीयू में टैक्नो-मैनेजमेंट फेस्ट-स्पार्क आयोजित////HYDERABAD-Venkaiah Naidu addressed National Conclave on Women’s Empowerment ///////NEW DELHI- 2nd phase of general election concludes; nearly 66% voters exercise their franchise///RANCHI- DPS student tops the NTSE exam////BENGLURU-IMA Hosts Women's Accounting Leadership Series ///NEW DELHI- ISH enters agreement with At-Sunrice GlobalChef Academy///HYDERABAD.-India to have first UAV centre at IIT Hyderabad////अमृतसर : माधव विद्या निकेतन में समर्पण कार्यक्रम//// भिखीविंड : शहीद बाबा दीप सिंह ग्रुप ऑफ कॉलेज में बैसाखी का त्योहार मनाया// अमृतसर : -ब्राइट-वे होली इनोसेंट स्कूल ने किया नगर कीर्तन का स्वागत//// बहादराबाद (HARIDWAR-उत्तराखंड संस्कृत विवि में सिंधु और छाया बने ओवरआल चैंपियन////हरिद्वार: गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय में ज्ञानाग्नि कार्यक्रम का किया आयोजन//////भिवानी : डीपीएस स्कूल में अटल कम्युनिटी-डे मनाया/// शामली : -रॉक गोल्ड एकेडमी के चेयरमैन शिखर गोयल को मिला इंडिया राइजिंग स्टार सम्मान////MEERUT. अमृतकला संगीत विद्यालय में कथक कार्यशाला आयोजित////गाजियाबाद। -एबीईएस इंजीनियरिंग कॉलेज गाजियाबाद में कोलिजीयम 2K19 कार्यक्रम आयोजितरोहतक-एमडीयू में टैक्नो-मैनजमेंट फेस्ट- स्पार्क 2019 का उद्घाटन////CHANDIGARH- Workshop on “Conflict Resolution and Peace Building” organised at PU///
ISRO ने छात्रों का बनाया दुनिया का सबसे हल्‍का
ISRO ने छात्रों का बनाया दुनिया का सबसे हल्‍का सैटेलाइट लांच कर रचा इतिहास, PM ने दी बधाई


श्रीहरिकोटा (आंध्रप्रदेश) : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पीएसएलवी-सी44 रॉकेट ने गुरुवार को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र से भारतीय सेना का उपग्रह माइक्रोसैट और छात्रों का उपग्रह कलामसैट लेकर अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी. कलामसैट दुनिया का सबसे हल्‍का सैटेलाइट कहा जा रहा है. इसरो ने बताया कि पीएसएलवी-सी44 ने सेना के उपग्रह माइक्रोसैट-आर को सफलतापूवर्क उसकी कक्षा में स्थापित किया. वही इसरो की इस सफलता पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बधाई दी है.

पीएम मोदी ने कहा 'हम अपने वैज्ञानिकों को एक और पीएसएलवी के सफल लांच के लिए बधाई देते हैं. इस प्रक्षेपण से कलामसैट उपग्रह को कक्षा में स्‍थापित किया जाएगा, जो कि देश के प्रतिभाशाली छात्रों ने बनाया है. इसके साथ ही भारत विश्‍व का पहला ऐसा देश बन गया है, जिसने रॉकेट के चौथे स्‍टेज का अंतरिक्ष अभियान में सफलतापूर्वक इस्‍तेमाल किया है.'

इसरो के 2019 के पहले मिशन में 28 घंटे की उल्टी गिनती के बाद रात 11 बजकर 37 मिनट पर पीएसएलवी-सी44 ने उड़ान भरी.

यह पीएसएलवी की 46वीं उड़ान है. इसरो ने बताया कि पीएसएलवी-सी44 740 किलोग्राम वजनी माइक्रोसैट आर को प्रक्षेपण के करीब 14 मिनट बाद 274 किलोमीटर ध्रुवीय सूर्य तुल्यकालिक कक्षा में स्थापित कर दिया. इसके बाद यह 10 सेंटीमीटर के आकार और 1.2 किलोग्राम वजन वाले कलामसैट को और ऊपरी कक्षा में स्थापित करेगा. भारतीय ध्रुवीय रॉकेट पीएसएलवी-सी44 छात्रों द्वारा विकसित कलामसैट और पृथ्वी की तस्वीरें लेने में सक्षम माइक्रासैट-आर को लेकर उड़ान भरेगा(UPDATED ON JANUARY 24TH, 2019)
PLEASE NOTE :: More Past News you can see on our "PAST NEWS" Coloumn