SURAT.-20 students in Surat fire; PM asks state govt to provide all assistance///NEW DELHI.-Prime Minister recommends dissolution of 16th Lok Sabha//प्रयागराज : प्राइवेट कॉलेज में नहीं लागू हो सकता छठवां वेतन आयोग///रोहतक-महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में डा. शालिनी सिंह का विशेष व्याख्यान //रोहतक।-मदवि के मनोविज्ञान विभाग में 'अनफोल्ड माइंड्ज आईज' विषयक कार्यक्रम ////प्रयागराज: -शिक्षकों की सामूहिक बीमा की कटौती बंद////RANCHI. Zumba, Aerobics & Cross Country Session Conducted at DPS /// ========= NEW DELHI- PM Narendra Modi makes 3 promises to India after record mandate in Lok Sabha election 2019////DUBAI- Indian business tycoons expats in UAE hail Modi's resounding election victory ////CHANDIGAR- Day 4 of Seven Days National Workshop in PU////NEW DELHI- Italian Government Scholarship 2019-20Announced ////SRINAGAR-University Of Kashmir Scores A+ Grade In NAAC Re-Accreditation////Gandhinagar: Shocking Gujarat exam results: 63 schools score a zero////CHANDIGARH- Special lecture on Guru Nanak’s Philosophy at PU///
Haryana News in Detailed
MDU में 21 दिवसीय इंटर डिसीप्लीनरी रिफ्रेशर कोर्स का
MDU में 21 दिवसीय इंटर डिसीप्लीनरी रिफ्रेशर कोर्स का उद्घाटन


रोहतक- शैक्षणिक गुणवत्ता सुनिश्चित करने में शिक्षकों की महती भूमिका है। वर्तमान समय में अध्यापन कार्य में टैक्नोलोजी के समावेश से इस कार्य को और अधिक प्रभावी बनाया जा सकता है। जरूरत है कि टैक्नोलोजी एनेबल्ड टीचिंग से शिक्षक डिलीवरी मैकेनिज्म को बेहतरीन बनाएं। ये उद्गार महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (एमडीयू) के कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने आज विश्वविद्यालय के फैकल्टी डेवलपमेंट सेंटर (एफडीसी) के तत्वावधान में संचालित 21 दिवसीय इंटर डिसीप्लीनरी रिफ्रेशर कोर्स का उद्घाटन करते हुए व्यक्त किए। हाई इंपेक्ट टीचिंग स्ट्रैटेजीज एण्ड टीचिंग मैथाडोलोजीज विषय पर इस रिफ्रेशर कोर्स का आयोजन किया जा रहा है।


प्रो. राजबीर ने कहा कि अध्यापन कार्य को विद्यार्थी-उन्मुख बनाना होगा। प्रयास होना चाहिए कि ज्ञान के साथ-साथ विद्यार्थियों में कौशल विकास भी हो। उच्च शिक्षा के विस्तारण में टैक्नोलोजी की भूमिका बारे प्रो. राजबीर सिंह ने विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला


इससे पूर्व, एमडीयू के डीन, एकेडमिक एफेयर्स तथा निदेशक, एफडीसी प्रो. ए.के. राजन ने स्वागत भाषण दिया। प्रो. राजन ने कहा कि सामाजिक तथा आर्थिक विकास में गुणवत्तापरक शिक्षा की भूमिका है। यदि शिक्षा तथा शिक्षक का विकास हागा, तो समाज प्रगति पथ पर आगे बढ़ेगा। एफडीसी की उप-निदेशिका डा. माधुरी हुड्डा ने इस रिफ्रेशर कोर्स की थीम बारे बताया। आभार प्रदर्शन आयोजन सचिव डा. संदीप मलिक ने किया। कार्यक्रम में मंच संचालन सहायक प्रोफेसर मेनका चौधरी ने किया।


इस रिफ्रेशर कोर्स के उद्घाटन सत्र में सीबीटी निदेशक प्रो. अनिल छिल्लर, मडूटा अध्यक्ष डा. विकास सिवाच, डा. जगबीर नरवाल, पीआरओ पंकज नैन समेत अन्य प्राध्यापकगण एवं डेलीगेट्स उपस्थित रहे। यह रिफ्रेशर कोर्स 4 जून तक आयोजित किया जाएगा।

(UPDATED ON MAY 15TH 2019)


========
PLEASE NOTE :: More Past News you can see on our "PAST NEWS" Coloumn