SHILLONG-United Kingdom, India Invested 75 Million Pounds For Academic Exchanges//PUNE. convocation ceremony of the SBPU innaugurates by Bertrand De Hartingh///AMRITSAR- Guru Nanak Dev University to sign MoU with Oklahoma University///इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अतिथि प्रवक्ता के लिए आवेदन शुरू/////// == Tamil Nadu Bags 2 Gold Medals In 4th National Yoga Olympiad///NEW DELHI- Supreme Court Upholds Rs. 23.10 Crore Penalty On Management School For Admitting Excess Students////LUDHIANA- Yoga Day Celebrated in Guru Gobind Singh Public School////लुधियाना -खालसा कॉलेज फॉर वुमन में हुआ आयोजन //// सागर विश्वविद्यालय के 7 विद्यार्थी बने भूगर्भशास्त्री, ///रांची- शारदा ग्लोबल में योग दिवस का आयोजन किया///LUDHIANA-Yoga Camp organised in Partap College of Education///NEW DELHI: Consider Handloom Fabric For Convocations: UGC To Universities////MUMBAI: -Maharashtra To Make Marathi Mandatory In CBSE, ICSE Schools////NEW DELHI- Student Body Writes To HRD Ministry On 'Growth Of Fake Degree Holders'///London: Over 60 Indian institutions honoured at House of Commons, London///रांची--आईआईएम में इंडक्शन प्रोग्राम हुआ///रांची -वीमेंस कॉलेज की छात्राओं और टीचर्स ने किए योगाभ्यास//बेगूसराय-परमहंस विद्यालय एवं संत जोसेफ पब्लिक स्कूल की छात्रा को पुरस्कार ///MADHUWANI-कालिदास विद्यापति विज्ञान कॉलेज से लें प्रेरणा ////उज्जैन-महाकाल इंस्टीट्य्ट स्टडीज के विद्यार्थियों ने रिसर्च की परीक्षा उत्तीर्ण की///उज्जैन -श्री गुरु सांदीपनि इंस्टीट्यूट एंड साइंस में कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव ///उज्जैन -प्रशांति इंजीनियरिंग काॅलेज के छात्र का चयन ////लुधियाना-डीजीएसजी स्कूल में बच्चों ने की पूल पार्टी //खन्ना| नवाब जस्सा सिंह आहलुवालियां स्कूल में बच्चों ने समर कैंप में सीखे मार्शल आर्ट्स के टिप्स ///मंडी गोबिंदगढ़ -देश भगत ग्लोबल स्कूल में समर कैंप में बच्चों को दिए पेंटिंग के टिप्स ////BHIWANI- 10 साधकों ने योग क्रियाओं विश्व रिकॉर्ड बनाकर गोल्डन बुक में दर्ज कराया नाम ////GURUGRAM- 3 दिवसीय बाल व्यक्तित्व विकास शिविर का समापन// रायपुर- जनगणना से संबंधित डेटा, रिसर्च वर्क के लिए रविशंकर यूनिवर्सिटी में वर्क स्टेशन ////GWALIOR- जीवाजी यूनिवर्सिटी में साइंटिफिक करिकुलम डवलपमेंट पर सेमिनार ///जोधपुर-मेरा शहर फाउंडेशन से जुड़ी अंकिता ओझा ने खिताब जीता///CHANDIGARH- Swami Vivekananda Studies organised Yoga Day//एबीईएस-ईसी में अंतर्राष्टीªय योग दिवस का आयोजन///(KARNATAKA)- Padmavati International Schoo celebrated Yoga Day///नई दिल्ली.राष्ट्रीय पुस्तक न्यास में विश्व योग दिवस आयोजन ///राजौरी : बिना अनुमति चल रहे 18 निजी स्कूल होंगे बंद///लखनऊ-एसिड अटैक पीड़ितों को शैक्षिक योग्यता में पांच फीसद की छूट///
Detail
Sure Success Centre
Name : Sure Success Centre
Address : Circular Road, Ranchi-1Ext. 1: 202,Hari-Om Tower, Circular Road, Lalpur Ranchi
Contact Details : Mob. : +91-9835164787Email:sscranchi1996@reddiffmail.com
Sunil Jaiswal
Director



झारखन्ड प्रदेश का अति प्रतिष्ठित मार्गदर्शक संस्थान “ श्योर सक्सेस सेन्टर “ (सर्कुलर रोड रांची) बैंक (पी.ओ./क्लर्क) स्टाफ़ सलेक्श्न कमीशन, रेलवे, सी.डी.एस., एन.डी.ए., सी.पी.एफ., सी.पी.ओ. एवं अन्य राष्ट्रीय तथा राज्य स्तरीय कर्मचारीयों की नियुक्ति हेतु आयोजित प्रतियोगिता परीक्षा (Written & Interview) की तैयारी हेतु मार्गदर्शन उपलब्ध कराने के लिये जाना जाता है। 1st जुलाई 1996 को बैंक की नौकरी छोड श्री सुनिल जयसवाल के द्वारा स्थापित इस संस्थान ने मार्गदर्शन के छेत्र में श्रेष्ठ गुणवता, प्रतियोगिता परीक्षा के स्वरुप का सुक्ष्म अध्ययन, बेहतर प्रबंधन, विशिष्ट गुणवता वाले शिक्षक का सहयोग बेहतर अनुशासन क्रियान्वयन जैसे नीतियों को अपनाया।इसके सकारात्मक परिणाम सामने आये एवं 15000 से अधिक प्रतियोगिता इस संस्थान से मार्गदर्शन प्राप्त कर एवं सफ़लता को अर्जित कर भारत के विभिन्न एवं विविध क्षेत्रों में अपना योगदान दे रहे हैं। संस्थान की ख्याति केवल झारखणड प्रदेश तक ही सीमित नहीं है बल्कि दिल्ली, मध्यप्रदेश, छत्तिसगढ, उडीसा, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल एवं बिहार तक फ़ैली हुई है। संस्थान प्रतियोगियों को अंतिम सफ़लता मिले इसके लिये सतत् प्रयत्नशील रहता है, नियमित कक्षा, सप्ताहिक टेस्ट समय प्रबंधन के अनुसार समय – समय पर प्रतियोगिता परिक्षा के अनुसार विशिष्ट टेस्ट प्रत्येक सप्ताह करेन्ट अफ़ेर की कक्षा (मुख्यतः अर्थव्यवस्था पर) सद्यतन मेटेरियल सुविधा, लाइब्रेरी सुविधा प्रतियोगिता उपलब्ध करायी जाती है। शिक्षक एवं प्रतियोगियों के बीच सौहार्दपूर्ण एवं सहयोगात्मक संबंध पर बल दिया जाता है। संस्थान का प्रयास रहता है कि प्रतियोगियों का बौद्धिक स्तर इतना बेहतर हो कि प्रतियोगिता परीक्षा में सहण्ता से सफलता प्राप्त करें। संस्थान के निदेशक एवं शिक्षक अपनी निंद खोते हैं क्योंकि प्रतियोगियों की सफलता ही उनके लिये सर्वोपरी है।